Home » Karobar Jagat » Arth Jagat » Increased Number Of Nobles Idling

सुस्ती के बावजूद बढ़ी रईसों की तादाद

Agency | Sep 12, 2013, 15:10PM IST
सुस्ती के बावजूद बढ़ी रईसों की तादाद

पिछले एक साल के दौरान भारत में और बढ़ गई है 'सुपर-रिच' की संख्या

अन्य 'ब्रिक्स' देशों   को पीछे छोड़ा
एक साल में ब्रिक्स के किसी अन्य सदस्य देश के मुकाबले भारत के 'सुपर-रिच क्लब' में ही सर्वाधिक बढ़ोतरी दर्ज
महज एक साल में देश के सुपर-रिच क्लब में 120 लोगों का इजाफा, भारत में फिलहाल हैं 7850 अत्यंत रईस, जिनकी संयुक्त नेटवर्थ है 935 अरब डॉलर

'वेल्थ-एक्स' की रिपोर्ट
पिछले एक साल के दौरान दुनिया भर में रहने वाले सुपर-रिच लोगों की संख्या बढ़कर पहुंच गई है  1,99,235 के उच्चतम स्तर पर
मौजूदा समय में दुनिया भर में हैं 2170 अरबपति, जिनकी नेटवर्थ कुल मिलाकर है 6.5 लाख करोड़ डॉलर
इस साल भारत में अरबपतियों की संख्या पिछले साल के १०९ से घटकर १०३ रह गई है

भारत में 90% रईस कहां
मुंबई, दिल्ली, जयपुर, गुडग़ांव, बंगलुरू, कोलकाता, हैदराबाद, चेन्नई, अहमदाबाद और पुणे में

सर्वाधिक महिला   मिलिनॉयर भारत में
भारत में फिलहाल 1,250 से भी ज्यादा सुपर-रिच महिलाएं हैं, जिनकी संयुक्त नेटवर्थ है 95 अरब डॉलर

भारतीय अर्थव्यवस्था में निराशा के बादलों के बरकरार रहने के बावजूद देश में अमीरों की संख्या बढ़ रही है। अगर 'ब्रिक्स' के सदस्य देशों से भारत की तुलना करें तो पिछले एक साल के दौरान ब्रिक्स के किसी भी सदस्य देश के मुकाबले भारत के 'सुपर-रिच क्लब' में ही सर्वाधिक बढ़ोतरी दर्ज की गई है। भारत में फिलहाल कुल मिलाकर 7,850 यूएचएनडब्ल्यू (अल्ट्रा-हाई नेटवर्थ) इंडिविजुअल हैं।

एक नवीनतम रिपोर्ट से यह जानकारी मिली है। इस अध्ययन में खासकर उन लोगों पर फोकस किया गया है जिनकी नेटवर्थ 3 करोड़ डॉलर या उससे ज्यादा है। इतना ही नहीं, पूरी दुनिया में सर्वाधिक महिला करोड़पति (मिलिनॉयर) भारत में ही हैं। भारत में फिलहाल 1,250 से भी ज्यादा महिला यूएचएनडब्ल्यू हैं, जिनकी संयुक्त नेटवर्थ 95 अरब डॉलर आंकी गई है।

संपत्ति का आकलन करने वाली अंतरराष्ट्रीय कंपनी 'वेल्थ-एक्स' द्वारा जारी वल्र्ड अल्ट्रा वेल्थ रिपोर्ट 2013 के मुताबिक, भारत में मौजूदा समय में 7,850 हाई नेट वर्थ इंडिविजुअल्स हैं, जिनकी संयुक्त नेटवर्थ (हैसियत) 935 अरब डॉलर है। रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत के सुपर-रिच क्लब में 120 लोगों का इजाफा हुआ है।

शहरों    के आधार पर सुपर-रिच लोगों का विश्लेषण करने से पता चला है कि भारत के तमाम यूएचएनडब्ल्यू इंडिविजुअल्स में से तकरीबन 90' व्यक्ति टॉप टेन शहरों में रहते हैं। इन शहरों में मुंबई, दिल्ली, बंगलुरू, कोलकाता, हैदराबाद, चेन्नई, अहमदाबाद, जयपुर, पुणे और गुडग़ांव शामिल हैं।

हालांकि, देश के तमाम सुपर-रिच लोगों में से 50% से भी ज्यादा महज दो शहरों मुंबई और दिल्ली में रहते हैं। उपर्युक्त रिपोर्ट से यह भी पता चला है कि पिछले एक साल के दौरान देश में अरबपतियों की संख्या बढऩे के बजाय घट गई है। इस साल देशभर में कुल मिलाकर 103 अरबपति ही हैं, जबकि बीते साल यह संख्या 109 थी।

यही नहीं, पिछले एक साल के दौरान देश के अरबपतियों की कुल दौलत में भी कमी देखने को मिली है। बीते साल देश के अरबपतियों के पास कुल मिलाकर 190 अरब डॉलर की दौलत थी, जो इस साल 5.3' घटकर 180 अरब डॉलर के स्तर पर आ गई है।

आपकी राय

 

भारतीय अर्थव्यवस्था में निराशा के बादलों के बरकरार रहने के बावजूद देश में अमीरों की संख्या बढ़ रही है।

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
2 + 2

 
विज्ञापन
 

मार्केट

Ethical voting

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

जीवन मंत्र

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment