Home >> Auto-Gadget >> Auto
  • बीमा कंपनियां 10 लाख रुपये अधिकतम सीमा तय करने की मांग कर रहीं
    बिजनेस भास्कर : नई दिल्ली... थर्ड पार्टी प्रीमियम रेट नियंत्रण मुक्त करने पर कंपनियां मुआवजा राशि अधिकतम 10 लाख रुपये तय करने की मांग कर रही हैं। इसके लिए संसद से कानून में आवश्यक संशोधन करना होगा। लेकिन इसका गंभीर मानवीय पहलू भी है। कोई दुर्घटना होती है, तो पीडि़त व्यक्ति को हुए नुकसान की सीमा तय करने से कंपनियां तो बच जाएंगी, लेकिन पीडि़त व्यक्तियों की पीड़ा और बढ़ सकती है। अगर यह कानून पास होता है तो बीमा कंपनियां अधिकतम 10 लाख रुपये मुआवजा देकर बच जाएंगी। अगर पीडि़त व्यक्ति को दुर्घटना से...
    09:36 AM
  • बीमा कंपनियों को पब्लिक वाहनों के बीमा व्यवसाय में ही ज्यादा घाटा हो रहा है। पब्लिक और प्राइवेट वाहनों को थर्ड पार्टी इंश्योरेंस के लिए अलग-अलग पूल बनाने का मकसद भी यही है कि उनके अलग-अलग क्लेमों के अनुसार प्रीमियम दरें तय हो सकें। इस लिहाज से ट्रक, बस और दूसरे पब्लिक वाहनों पर बीमा का प्रीमियम इस वर्ग के दावों के वित्तीय बोझ के आधार पर होना चाहिए। इसी तरह प्राइवेट वाहनों जैसे कार आदि का प्रीमियम इस वर्ग के दावों के वित्तीय बोझ के आधार पर तय किया जाना चाहिए। लेकिन ट्रक और बस ट्रांसपोर्टरों के...
    09:33 AM
  • बीमा कंपनियों पर ट्रांसपोर्टरों का दबाव आगे भी पड़ेगा इरडा ने वर्ष 2015 से मोटर थर्ड पार्टी इंश्योरेंस की प्रीमियम दरों को नियंत्रण मुक्त करने की योजना बनाई है। सिर्फ मोटर थर्ड पार्टी इंश्योरेंस की दरें इरडा तय करता है और सभी कंपनियों को इसी के अनुसार प्रीमियम वसूलना होता है। नए प्रस्ताव के अनुसार कंपनियां खुद प्रीमियम दरें तय कर सकेंगी। इससे प्रीमियम दरों में स्पर्धा होने की संभावना है। लेकिन इस प्रस्ताव पर बीमा कंपनियां की कुछ आपत्तियां है। वैसे भी मोटर इंश्योरेंस एक्ट में आवश्यक...
    09:32 AM
  • ट्रक-बसों की मजबूत लॉबियों के दबाव में नहीं बढ़ पाता प्रीमियम: कंपनियां थर्ड पार्टी इंश्योरेंस प्रीमियम को लेकर साधारण बीमा कंपनियां बीमा नियामक इरडा के तौर-तरीकों से सहमत नहीं हैं। बीमा कंपनियों का कहना है कि पिछले कुछ वर्षों में थर्ड पार्टी इंश्योरेंस प्रीमियम पर अगर ध्यान दें तो अहसास होगा कि बसों और ट्रकों का प्रीमियम निजी कार की तुलना में काफी कम बढ़ा है। जबकि बसों और ट्रकों के दावे काफी होते हैं। वहीं निजी कारों का क्लेम इसकी तुलना में काफी कम होता है, लेकिन उनका प्रीमियम हर साल काफी...
    09:32 AM
  • ट्रक-बसों पर बीमा हल्का, कारों पर भारी (थर्ड पार्टी इंश्योरेंस प्रीमियम)
    यह अजीब गणित है, ट्रक-बस जैसे पब्लिक वाहनों के थर्ड पार्टी बीमा के दावे ज्यादा होते हैं। जनरल इंश्योरेंस कंपनियों को इनके दावों का ज्यादा वित्तीय बोझ उठाना पड़ता है। लेकिन हर साल की तरह इरडा ने वित्त वर्ष 2014-15 के लिए इन वर्गों के वाहनों पर प्रीमियम कम बढ़ाया। दूसरी ओर प्राइवेट कारों और टैक्सियों के थर्ड पार्टी बीमा के दावे कम रहते हैं, लेकिन इनका प्रीमियम दोगुना बढ़ाया गया। दशकों से हो रहे इस भेदभाव पर के. के. कुलश्रेष्ठ की रिपोर्ट... इंश्योरेंस डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (इरडा) ने वित्त वर्ष...
    12:05 AM
  • मर्सडीज लाई जीएल 63 एएमजी, कीमत 1.66 करोड़
    मर्सडीज बेंज ने मंगलवार को बहुप्रतीक्षित जीएल63 एएमजी भारतीय बाजारों के लिए लॉन्च कर दी है। इसकी कीमत 1.66 करोड़ रुपए (एक्स शो रूम मुंबई) होगी। कंपनी अब पूरी एएमजी रेंज भारत में उपलब्ध कराने की भी बात कही। इसका मायने यह है कि कंपनी इसी साल कुछ और सीरीज के एएमजी मॉडल के साथ भारतीय बाजारों में आएगी। = 5.5 लीटर ट्विन टर्बो, वी8 एएमजी इंजन के साथ है जो 557 बीएचपी का पावर, 760 का टॉर्क देता है। = 3 साल की वारंटी बिना किसी माइलेज लिमिटेशन के साथ। 1.17 लाख रुपए की वारंटी चौथे साल में। = 250 किमी की टॉप स्पीड। 0 से 100 किलोमीटर...
    April 16, 05:44 PM
  • अगर कर्ज लेकर खरीदना चाहते हैं पुरानी कार तो पहले जान लें ये बातें
    बीते पांच वर्षो में भारतीय वाहन क्षेत्र ने काफी प्रगति की है, जिससे उपभोक्ताओं के सामने अब विकल्पों की कमी नहीं रह गई है। इससे लोग अब पहले की तुलना में कम समय के बाद ही अपनी गाड़ी बदल ना चाहते हैं। शहरी और अर्ध-शहरी उपभोक्ताओं, दोनों के लिए यह बात सच है। इसके चलते पुरानी कारों की श्रेणी में पहले से बेहतर कारें उपलब्ध हैं। जो उपभोक्ता हर बार एक नई गाड़ी खरीदने के भावनात्मक मूल्य को छोड़ने के लिए तैयार हैं, वे ऐसी पुरानी गाड़ी को चुनते हैं जो शानदार हालत में हो और साथ ही उनके लिए पैसा-वसूल भी हो। आज...
    April 14, 06:57 PM
  • लॉन्च हुई 3.12 लाख रुपए की ये कार, 20 किलोमीटर का देगी माइलेज
    जापान की वाहन निर्माता कंपनी निसान ने अपने डाटसन ब्रांड को एक बार फिर वैश्विक बाजार में उतारा है। कंपनी ने डाटसन गो नाम से छोटी कार लॉन्च की है, जिसकी एक्स-शोरूम कीमत दिल्ली में 3.12 लाख से 3.70 लाख रुपएके बीच रहेगी। मारुति सुजुकी की सबसे अधिक बिकने वाली कार ऑल्टो के लिए निसान की डटसन गो एक बड़ी चुनौती हो सकती है। यह कार ऑल्टो और सेलेरियो जैसी गाड़ियों के मार्केट को बहुत अधिक प्रभावित कर सकती है, जिसमें ईऑन कार के जरिए होंडा ने पहले से ही अपनी जगह बना रखी है। डटसन गो में 1200 सीसी का पेट्रोल इंजन है, जिसे...
    April 14, 05:01 PM
  • टोयोटा ने 44,989 इनोवा गाड़ियां वापस मंगाईं, स्टियरिंग में है प्रॉब्लम
    भारत और जापान की ज्वाइंट वेंचर कंपनी टोयोटा किर्लोस्कर मोटर ने इनोवा गाड़ी की कुल मिलाकर 44,989 यूनिट वापस मंगाई हैं। फरवरी 2005 से दिसंबर 2008 के बीच बनी इनोवा गाड़ियों में खराबी के चलते कंपनी ने यह कदम उठाया है। कंपनी के अनुसार इस समय के बीच बनी इनोवा गाड़ियों में स्टियरिंग व्हील से जुड़े स्पाइरल केबल में कुछ गड़बड़ी होने की शिकायत है। कंपनी ने कहा है कि फिलहाल कंपनी रिप्लेसमेंट पार्ट्स पर काम कर रही है, जैसे ही पार्ट्स उपलब्ध हो जाएंगे तो हर इनोवा ग्राहक से कंपनी के डीलर द्वारा संपर्क किया जाएगा और...
    April 14, 05:00 PM
  • दात्सुन 'गो': फर्स्ट बायर्स कार
    वैरिएंट्स की कीमत (एक्स-शोरूम दिल्ली) दात्सुन गो डी 3,12,270 रुपये दात्सुन गो ए 3, 46,482 रुपये दात्सुन गो टी 3,69,99 रुपये गुड लुकिंग, किफायती एंट्री लेवल कार। निसान के ब्रांड दात्सुन की गो को एक लाइन में कुछ ऐसे परिभाषित किया जा सकता है। यह कार फस्र्ट टाइम बायर्स के लिए परफेक्ट कही जा सकती है। जानकार मानते हैं कि इस कार के साथ फस्र्ट टाइम बायर्स का एक्सपीरियंस अच्छा होगा। बजट कार होने के बावजूद कंपनी ने इसके लुक पर खास ध्यान दिया है। वहीं, 1.2 लीटर इंजन के साथ उतारी गई यह कार कीमत के लिहाज से लोगों का आकर्षित...
    April 14, 04:59 PM
  • घरेलू पैसेंजर कारों की सेल्स 5.08% गिरी, टू-व्हीलर में आई 21.16% की बढ़त
    मार्च 2014 में साल दर साल के आधार पर घरेलू पैसेंजर कार की सेल्स 5.08 प्रतिशत गिरकर 1,71,489 यूनिट पर आ गई है, जो पिछले साल इसी महीने में 1,80,675 यूनिट थी। सोसाएटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स के अनुसार पिछले महीने मोटरसाइकिल की सेल्स 12.24 प्रतिशत बढ़कर 9,06,665 यूनिट पर पहुंच गई, जबकि पिछले साल मार्च में यह सेल्स 7,80,022 यूनिट थी। वहीं दूसरी ओर, अगर टू-व्हीलर की कुल सेल्स की बात की जाए तो पिछले साल यह मार्च में 11,01,203 यूनिट थी, जो इस साल 21.16 प्रतिशत बढ़कर 13,34,214 यूनिट पर पहुंच गई है। सोसाएटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल...
    April 14, 04:59 PM
  • लॉन्चिंग से अब तक 86 हजार डस्टर बिकीं
    नई दिल्ली. फ्रैंच कार मेकर रेनॉ की कॉम्पैक्ट स्पोर्ट्स यूटिलिटी व्हीकल डस्टर भारत में हिट हो चुकी है। बिक्री के मामले में इस कार के लिए भारत दुनिया का चौथा सबसे बड़ा बाजार भी बन चुका है। रेनॉ डस्टर को भारत समेत दुनिया के कई देशों में वर्ष 2012 में लॉन्च किया गया था। तब से लेकर अब तक अकेले भारत में 85,974 डस्टर कारें बिक चुकी हैं। अकेले मार्च में 4,494 कारें बिकी हैं, वहीं वित्तीय वर्ष 2013-14 में इस कार की कुल 46,786 यूनिट बिक चुकी हैं। अब तक इस कॉम्पैक्ट एसयूवी कार को दुनिया के 100 से अधिक देशों में उतारा जा चुका है।
    April 14, 04:59 PM
Ad Link
 
विज्ञापन
 

मार्केट

 
 
 

बड़ी खबरें

 
 
 
 

रोचक खबरें

विज्ञापन
 

बॉलीवुड

 
 

जीवन मंत्र

 
 

स्पोर्ट्स

 
 

जोक्स

 

पसंदीदा खबरें